Ticker

6/recent/ticker-posts

राशन कार्ड : बड़ी खबर! इस तारीख तक ही मिलेगा मुफ्त राशन, बाद में बंद कर दी जाएगी सुविधा, देखें डिटेल्स

Ration Card: प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना को आगे बढ़ाने वालों के लिए एक बड़ी खबर है। दरअसल अब सरकार इस योजना को बंद करने की सोच रही है। इसके लिए विभाग से सुझाव प्राप्त हुआ है। आपको बता दें कि कोरोना काल में लोगों की आर्थिक स्थिति खराब हो गई थी, जिससे लोगों के लिए अपने लिए खाना जुटाना और गुजारा करना मुश्किल हो गया था. इसके बाद सरकार ने प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना (पीएमजीकेएवाई) शुरू की और लोगों को मुफ्त अनाज मुहैया कराया।

आपको बता दें कि अब इस योजना को सितंबर के बाद बंद किया जा सकता है। वित्त मंत्रालय के अंतर्गत आने वाले व्यय विभाग ने सरकार को सुझाव दिया है कि इस योजना को सितंबर से आगे नहीं बढ़ाया जाना चाहिए। व्यय विभाग ने कहा कि इस योजना से देश पर आर्थिक बोझ बहुत ज्यादा बढ़ रहा है. यानी देश का आर्थिक ढांचा प्रभावित होगा. पिछले महीने पेट्रोल-डीजल पर शुल्क घटाया गया था, जिससे राजस्व पर करीब 1 लाख करोड़ रुपये का अतिरिक्त बोझ पड़ा है। अब अगर और राहत दी गई तो आर्थिक बोझ और बढ़ जाएगा।

सब्सिडी से बढ़ रहा बोझ 

विभाग की ओर से जारी जानकारी के मुताबिक जब से कोरोना महामारी आई है तब से सरकार का सबसे ज्यादा पैसा खाद्य सब्सिडी पर खर्च हुआ है. देश में करीब 80 करोड़ लोगों को मुफ्त में राशन दिया जा रहा है. हालांकि इससे लोगों को काफी राहत मिली, लेकिन सरकार पर आर्थिक बोझ काफी बढ़ गया। वहीं, व्यय विभाग का कहना है कि अगर इस योजना को और 6 महीने के लिए बढ़ा दिया जाता है, तो खाद्य सब्सिडी बिल 80,000 करोड़ रुपये से बढ़कर लगभग 3.7 लाख करोड़ रुपये हो जाएगा।

जानकारी के लिए बता दें कि इस साल मार्च में केंद्र सरकार ने इस योजना को सितंबर 2022 तक बढ़ा दिया था. वहीं, सरकार ने बजट में खाद्य सब्सिडी के लिए 2.07 लाख करोड़ रुपये भी निर्धारित किए हैं.

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ