Ticker

9/recent/ticker-posts

चार बदमाशों ने खुद को पुलिसकर्मी बताया, फिर प्रेमी को बंधक बनाकर किया दुष्कर्म

दुष्कर्म की एक घटना सामने आई है जिसमें अपराधियों ने प्रेमी जोड़े को अकेला देख पहले प्रेमी को बंधक बना लिया, फिर प्रेमी के सामने प्रेमिका से दुष्कर्म किया. सबसे खास बात यह है कि अपराधियों ने पुलिसकर्मी का बहाना बनाकर इस घटना को अंजाम दिया. रेप की ये शर्मनाक घटना 13 साल की किशोरी के साथ तब हुई है जब वह अपने प्रेमी के साथ सुनसान जगह पर अकेली थी। वहीं पीछा कर रहे 4 बदमाशों ने पुलिस को सूचना दी और पहले प्रेमी की फोटो खींची और फिर प्रेमी को बंधक बनाकर प्रेमिका को डरा दिया. प्रेमी के सामने ही प्रेमिका को झाड़ियों में ले जाकर एक युवक ने दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया. ऐसा करने के बाद अपराधियों ने अपना मोबाइल नंबर भी दिया और किससे डरने और पुलिस के पास जाने से इनकार करते हुए कहा कि वह खुद पुलिसकर्मी है. आपके लिए पुलिस के पास जाने का कोई फायदा नहीं होगा !


पीड़िता द्वारा दी गई शिकायत के अनुसार चार युवकों ने उसे धमकाया और फिर उसके प्रेमी को बंधक बनाकर दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया. पीड़िता के मुताबिक बुधवार की शाम वह अपने प्रेमी के साथ बैठी थी. इस दौरान दो बाइक पर सवार चार लोग वहां पहुंच गए। चारों युवकों ने पहले पीड़िता और उसके प्रेमी की मोबाइल में फोटो खींच ली और फिर खुद को पुलिसकर्मी बताते हुए दोनों को फटकार लगाने लगे. इन चारों युवकों ने दोनों को थाने ले जाने की धमकी दी। बाद में इन युवकों ने पीड़िता से छेड़छाड़ शुरू कर दी, प्रेमी ने विरोध किया तो उसे बंधक बना लिया।

पीड़िता का कहना है कि इसके बाद एक युवक ने पास की झाड़ी में ले जाकर उसके साथ दुष्कर्म किया। हालांकि इस मामले में थोड़ा ट्विस्ट यह है कि पीड़िता के पिता ने 4 लोगों पर रेप का आरोप लगाया है, जबकि पीड़िता ने एक पर रेप का आरोप लगाया है. हालांकि पीड़ित का यह भी कहना है कि इस घटना के दौरान 4 बदमाश मौजूद थे. पीड़िता ने बताया कि घटना के बाद वह अपनी जान देना चाहती थी और घर से निकल गई थी। लेकिन, शाहपुर में एक राहगीर ने उसे घर में पनाह दे दी। इसके बाद पुलिस और परिवार को सूचना दी गई।

सूचना मिलने के बाद पुलिस ने इस मामले में कार्रवाई शुरू कर पीड़िता के प्रेमी को गिरफ्तार कर लिया है. पुलिस ने 4 अपराधियों में से एक की पहचान भी कर ली है. घटना में पीड़िता के पिता की शिकायत पर प्रेमी को भी पुलिस ने हिरासत में ले लिया है. पीड़िता अब सभी आरोपियों को सजा दिलाना चाहती है. फुलवारीशरीफ एसएचओ रफीकुर रहमान के मुताबिक इस मामले में अभी तक किसी पक्ष ने लिखित आवेदन नहीं दिया है, लेकिन पुलिस मामले की गंभीरता से जांच कर रही है.

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ