पत्नी ने मांगा होली का खर्च तो पति ने दे दी मौत, बेटे की निशानदेही पर शव बरामद

 जब लोग क्रूर हो जाते हैं, तो यह नहीं कहा जा सकता है। बिहार के लखीसराय जिले में एक ऐसी ही शर्मनाक घटना घटी है। जब पत्नी ने होली के लिए खर्च मांगा, तो पति ने उसे हमेशा के लिए सोने के लिए रख दिया। उसकी हत्या कर दी। घटना की जानकारी मिलते ही पूरा इलाका स्तब्ध रह गया। पति ने गुस्से में आकर अपनी पत्नी की गला दबाकर हत्या कर दी। इसके बाद शव को दूर ले जाकर किउल-हरोहर नदी में फेंक दिया गया। शनिवार को पुलिस ने बेटे के कहने पर शव बरामद किया है।

जानकारी के अनुसार, यह घटना लखीसराय के पिपरिया थाना क्षेत्र के मुदबरिया गांव में हुई है। 30 वर्षीय मृतक सोहिता देवी ललन यादव की पत्नी थी। उसी गाँव में मृतका का मायका भी है। उनके दो बेटे और एक बेटी है। हत्या के बाद आरोपी बेटी को लेकर फरार है। जबकि उसने दोनों बेटों को घर पर छोड़ दिया। सुसराल पक्ष के अन्य लोग भी घर छोड़कर भाग गए हैं।

मृतक के भाई की मानिकपुर थाना क्षेत्र के पुरानी सलेमपुर निवासी रणवीर यादव के बयान पर पिपरिया थाने में मामला दर्ज किया गया है। दर्ज एफआईआर में रणवीर ने बहनोई ललन यादव, ससुर राजेश्वरी यादव, सास टुल्ला देवी को नामजद बनाया है। साथ ही दो अज्ञात को आरोपी बनाया गया है। बताया जाता है कि होली में घर का खर्च मांगने पर पति से बहस हुई थी। इसमें पति ने पत्नी के साथ मारपीट की, फिर इलाके में जाकर होली गाने लगा। जब वे वहां से लौटे, तो उन्होंने इस घटना को अंजाम दिया। पिपरिया के राजकुमार राजकुमार साहू के अनुसार, जल्द ही सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ